Sun. Jun 16th, 2024

दिल्ली में 57 तो महाराष्ट्र में ओमिक्रोन के 54 मरीज, नहीं बरती एहतियात तो हालात हो सकते हैं खराब

कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रोन की स्पीड तेजी से बढ़ रही है। मंगलवार को तीन और राज्यों में ओमिक्रोन के नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही ओमिक्रोन के कुल मामले बढ़कर 213 हो गए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने ओमिक्रोन के कुल मामलों को लेकर जानकारी दी है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि मंगलवार को जम्मू-कश्मीर, ओडिशा और लद्दाख में ओमिक्रोन के मामले सामने आए हैं। जम्मू-कश्मीर में तीन, ओडिशा में दो और लद्दाख में ओमिक्रोन का एक मामला सामने आया है। इस तरह से ओमिक्रोन के 15 राज्यों में मामले सामने आ चुके हैं।

ओमिक्रोन के कहां कितने मामले

दिल्ली 57

महाराष्ट्र 54

तेलंगाना 24

कर्नाटक 19

राजस्थान 18

केरल 15

गुजरात 14

जम्मू-कश्मीर 3

उत्तर प्रदेश 2

ओडिशा 2

आंध्र प्रदेश 1

तमिलनाडु 1

पश्चिम बंगाल 1

चंडीगढ़ 1

लद्दाख 1

केंद्र सरकार की चेतावनी

उधर, ओमिक्रोन के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को चिट्ठी लिखी है। इस चिट्ठी में ओमिक्रोन के बढ़ते प्रसार को रोकने के लिए सख्त उपाय करने को कहा है। केंद्र की तरफ से रात को कर्फ्यू लगाना, एक जगह ज्यादा लोगों के एकत्र होने से रोकना, शादी-विवाह और अंतिम संस्कार में शामिल होने वाले लोगों की संख्या सीमित करने की सलाह दी है।

इसके अलावा केंद्र ने आपताकालीन संचालन केंद्रों को भी सक्रिय करने की सलाह दी है। साथ ही जिला व स्थानीय स्तर पर निगरानी बढ़ाने और जांच में तेजी लाने को भी कहा है। साथ ही निजी क्षेत्रों में ज्यादा संक्रमित मरीज मिलने पर वहां के नमूनों को तुरंत जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए इंसाकाग की प्रयोगशालाओं को भेजने को कहा गया है।

WHO ने भी चेताया

विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन पहले ही ये कह चुका है कि इस वैरिएंट के संक्रमण की रफ्तार पहले सामने आए वैरिएंट की तुलना में सबसे अधिक है। इसको देखते हुए संगठन के प्रमुख डाक्‍टर टैड्रोस घेबरेयसस का कहना है कि लोगों को भीड़-भीड़ वाली जगहों पर जने से बचना चाहिए और मास्‍क जरूर लगाना चाहिए। उन्‍होंने विश्‍व को आगाह किया है कि यदि लापरवाही बरती गई तो ये जानलेवा साबित हो सकती है।

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *