Sun. Jun 16th, 2024

बेटियों की उम्मीदों को पंख लगाएगा आरआइएमसी

देहरादून : राष्ट्रीय इंडियन मिलिट्री कालेज (आरआइएमसी) इस साल अपना शताब्दी वर्ष मना रहा है। इस अहम पड़ाव पर संस्थान के नाम एक नया आयाम जुडऩे जा रहा है। आगामी सत्र जुलाई से आरआइएमसी में छात्राएं भी शिक्षा ग्रहण करेंगी। अभी तक यहां केवल छात्रों को ही दाखिला दिया जाता था। दरअसल, राष्ट्रीय इंडियन मिलिट्री कालेज में प्रवेश के लिए हर साल दो बार प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जाता है। जून और दिसंबर में होने वाली इस परीक्षा में अभी तक देशभर से 25 छात्रों को प्रवेश दिया जाता था।

अखिल भारतीय स्तर पर आयोजित प्रवेश परीक्षा के आधार पर छात्रों को कक्षा आठ में प्रवेश मिलता था। जिसके लिए आबादी के हिसाब से राज्यवार कोटा निर्धारित है। उप्र, बिहार, पश्चिम बंगाल और महाराष्ट्र के लिए दो-दो सीटें तय हैं, जबकि उत्तराखंड को एक सीट मिलती है। इसी क्रम में अब उक्त 25 सीट के अलावा पांच छात्राओं को भी आरआइएमसी मेें दाखिला दिया जाएगा। जुलाई में आने वाले नए बैच में छात्राएं भी शामिल होंगी। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद गत वर्ष दिसंबर में छात्राएं पहली बार प्रवेश परीक्षा में शामिल हुई थीं। वहीं, नेशनल डिफेंस एकेडमी ने भी बेटियों के लिए द्वार खोल दिए हैं।

 

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *