Sun. Jun 16th, 2024

राकांपा मुखिया ने कहा- मलिक की गिरफ्तारी राजीनीति से प्रेरित, उन्हें बनाया जा रहा निशाना

New Delhi: Sharad Pawar, president of the Nationalist Congress Party (NCP) address a press conference at his residence in new Delhi on Sunday March 21, 2021.(Photo:Wasim Sarvar/IANS)

राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी (राकांपा) नेता शरद पवार ने शनिवार को नवाब मलिक की गिरफ्तारी को लेकर विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और वरिष्ठ राकांपा नेता की गिरफ्तारी राजनीति से प्रेरित है। उन्होंने आरोप लगाया कि मलिक का नाम भगोड़े अंडरवर्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के साथ इसलिए जोड़ा जा रहा है, क्योंकि वह मुस्लिम हैं। उन्होंने मलिक के इस्तीफे की विपक्ष की मांग को भी सिरे से नकार दिया। दरअसल, मलिक को ईडी ने 23 फरवरी को दाऊद और उसके साथियों के संपर्क में होने के आरोप में गिरफ्तार किया था।

राकांपा प्रमुख ने कहा कि मलिक और उनके परिवार के सदस्यों को जानबूझ कर परेशान किया जा रहा है, लेकिन हम इसके खिलाफ लड़ेंगे। भाजपा द्वारा मलिक का इस्तीफा मांगे जाने के प्रश्न पर पवार ने कहा कि मलिक और केंद्रीय मंत्री नारायण राणे पर अलग-अलग मानदंड अपनाए जा रहे हैं।

पवार ने कहा कि मुझे याद नहीं आता कि कांग्रेस के पूर्व पार्टी कार्यकर्ता नारायण राणे को हाल में गिरफ्तारी के बाद इस्तीफा देना पड़ा हो। प्रधानमंत्री कल पुणे आ रहे हैं। वह इस पर ज्यादा जानकारी दे सकते हैं। राणे के लिए अलग मानदंड और मलिक के लिए अलग मानदंड दिखाता है कि यह राजनीति से प्रेरित है।
पवार ने महाराष्ट्र के राज्यपाल बीएस कोश्यारी पर भी निशाना साधा। राज्यपाल ने महाराष्ट्र मंत्रीमंडल द्वारा एक साल पहले उन्हें भेजे गए विधान परिषद के 12 सदस्यों के नामों को मंजूरी नहीं दी। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र के पास पीसी एलेक्जेंडर जैसे राज्यपाल की विरासत है। मुझे इस पर बात नहीं करनी चाहिए कि वर्तमान राज्यपाल क्या कर रहे हैं। केंद्र सरकार हर वो काम कर रही है जो वह कर सकती है और महाराष्ट्र इसका ताजा उदाहरण है।

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *