Wed. Jun 19th, 2024

हैक्स की मदद से अब सोते समय भी घटाएं वज़न!

ज़्यादातर लोग ऐसे हैं जो वज़न घटाने की कोशिश में आए दिन लगे रहते हैं। वज़न कम करना किसी के लिए भी आसान नहीं होता। इसके लिए हम जिम में घंटों पसीना बहाने से लेकर कम से कम कैलोरी और कार्ब्स लेने की मशक्कत भी करते हैं।

किसी के लिए भी वज़न घटाना आसान नहीं होता। इसके लिए समय, प्लानिंग और प्रयास करने की ज़रूरत होती है। एक विस्तृत रूप से प्लान की गई डाइट और वर्कआउट साथ मिलकर शरीर में अतिरिक्त फैट्स को कम करने में मदद करेगा जिससे आप मनचाहा वज़न हासिल कर सकते हैं। हालांकि, हम सभी के बिज़ी लाइफस्टाइल में इस तरह की प्लानिंग के लिए शायद ही वक्त निकल पाए।

अगर हमें वक्त मिलता भी है, तो उसे हम मेहनत नहीं बल्कि आराम करने के लिए इस्तेमाल करना चाहते हैं। हालांकि, अब आप बिस्तर पर लेटे हुए आराम से भी वज़न घटा सकते हैं। जी हां आपने बिल्कुल सही पढ़ा। आज हम आपको बता रहे हैं ऐसी उपायों के बारे में जिन्हें आप सोने से पहले या बिस्तर पर लेटे वक्त कर सकती हैं।

हर रात एक घंटा ज़्यादा सोने की कोशिश करें ताकि बिना ज़्यादा मेहनत किए आप 270 कैलोरी कम खाएंगे और इससे मदद मिल सकती है। अच्छी नींद लेने से जंक फूड खाने की चाहत पर नियंत्रण रखा जा सकता है और इस यह ट्रिक वज़न कम करने में काम आ सकती है। 270 कैलोरी कम लेने का मतलब है साल में 4 किलो कम वज़न, जो मायने रखता है।

सोने से पहले प्रोटीन शेक पिएं

रात में सोने जाने से पहले एक गिलास प्रोटीन शेक पी लेने से आपका पेट भरा हुआ रहता है और आपको देर रात भूख नहीं लगती। इसके अलावा, प्रोटीन कार्ब्स की तुलना में बहुत अधिक थर्मोजेनिक होता है और बेहतर तरीके से अधिक कैलोरी बर्न करने में मदद करता है।

बिना ब्लैंकेट के सोने की कोशिश करें

ऐसे कमरे में सोना जहां का तापमान कम है से आपके मेटाबॉलिज़म को बढ़ावा मिलेगा और आपका शरीर ज़्यादा कैलोरी बर्न कर पाएगा। अध्ययनों से यह भी पता चला है कि कम तापमान में सोने से शरीर में ब्राउन फैट की मात्रा बढ़ जाती है। ब्राउन फैट, वसा का एक अच्छा रूप है और शरीर में रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है।

यह बात सच है कि कम कैलोरी के सेवन से वज़न घटता है, लेकिन सोने से पहले सही तरीके से न खाने का असर उलटा हो सकता है। अगर आप रोज़ाना डिनर नहीं करते और आपकी रोज़ की कैलोरी में अचानक गिरावट देखी जाती है, तो इससे शरीर भुखमरी की स्थिति में जा सकता है। इससे मेटाबॉलिज़म पर बुरा असर पड़ सकता है और आपका पाचन भी बिगड़ सकता है।

स्लीप मास्क पहनें

शोध और अध्ययनों से पता चला है कि जो लोग रोशनी के अभाव में अंधेरे कमरे में सोते हैं, उनके वजन बढ़ने की संभावना उन लोगों की तुलना में 21% कम होती है जो थोड़े रोशनी वाले कमरों में सोते हैं। इसलिए सोते समय स्लीपिंग मास्क पहनें या फिर कमरे में ऐसे पर्दे लगाएं जिससे रोशनी बिल्कुल न आए। खासतौर पर दिन के समय सोने पर।

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *