Wed. Jun 19th, 2024

13 हजार पुलिसकर्मियों की जांच हो चुकी, जिनमें से 50 पुलिसकर्मी संक्रमित पाए गए

राष्ट्रपति के कार्यक्रम में ड्यूटी पर जा रहे ऋषिकेश के पुलिस कर्मियों के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद पुलिस विभाग में सभी कार्मिकों की जांच की जा रही है। अभी तक करीब 13 हजार 62 पुलिसकर्मियों की जांच हो चुकी है, जिनमें से 50 पुलिसकर्मी संक्रमित पाए गए हैं। सभी की कान्टेक्ट ट्रेसिंग की जा रही है। सबसे अधिक 25 पुलिसकर्मी आइआरबी-1 में कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इसके अलावा हरिद्वार जिले में 10, पौड़ी जिले में छह, चमोली जिले में चार, रुद्रप्रयाग जिले में एक, बागेश्वर, चंपावत, एसटीएफ व इंटेलिजेंस हेड क्वार्टर में एक पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। सभी पुलिसकर्मियों की ओर से डबल डोज वैक्सीन लगाई हुई है। सभी संक्रमित पाए गए सभी पुलिसकर्मियों को क्वारंटाइन किया गया

पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने मंगलवार को दो दिन के भीतर प्रदेश के सभी पुलिसकर्मियों की कोरोना जांच कराने के निर्देश दिए थे, जिसके बाद से युद्ध स्तर पर सभी की जांच की जा रही है। प्रदेश में करीब 27 हजार पुलिसकर्मी हैं। सभी को वैक्सीन की दोनों डोज लग चुकी हैं। बीते दिनों राष्ट्रपति की सुरक्षा व्यवस्था के लिए जा रहे सात पुलिसकर्मियों के संक्रमित पाए जाने से हड़कंप मच गया था।

इसके बाद डीजीपी ने सभी की जांच के आदेश दिए। पहले दिन मंगलवार को पांच हजार पुलिसकर्मियों के टेस्ट हुए थे। जिनमें 18 पुलिसकर्मी संक्रमित पाए गए थे। इसके बाद बुधवार शाम तक करीब नौ हजार पुलिस कर्मियों की जांच की जा चुकी थी। इनमें से 21 में कोरोना संक्रमण पाया गया। इधर, देहरादून में दो दिनों में करीब 960 पुलिसकर्मियों की जांच की जा चुकी है। जिनमें से कोई भी पुलिसकर्मी पाजीटिव नहीं पाया गया।

मामलों का बढ़ ग्राफ, चिंताएं भी बढ़ी

उत्तराखंड में कोरोना के बढ़ते मामले चिंता बढ़ा रहे हैं। मामले ही नहीं बढ़ रहे, बल्कि अब संक्रमण दर में भी इजाफा हो रहा है। बुधवार को राज्य में 53 लोग संक्रमित मिले। सबसे ज्यादा मामले नैनीताल और हरिद्वार जिले में मिले हैं। इधर, अलग-अलग जिलों में 11 मरीज स्वस्थ भी हुए हैं। राज्य में फिलवक्त कोरोना के 183 सक्रिय मामले हैं, जिनमें सबसे ज्यादा मामले देहरादून, हरिद्वार, नैनीताल व पौड़ी गढ़वाल में हैं।

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *