Wed. Jun 19th, 2024

कोरोना के मामलों में तेजी से कमी आने के बाद दिल्ली में नाइट कर्फ्यू समेत तमाम प्रतिबंधों को खत्म कर दिया गया

कोरोना के मामलों में तेजी से कमी आने के बाद राजधानी दिल्ली में नाइट कर्फ्यू समेत तमाम प्रतिबंधों को खत्म कर दिया गया है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक में शहर में फैसला हुआ है कि कोरोना के सभी प्रतिबंधों को हटा दिया जाएगा, बशर्ते कोरोना वायरस संक्रमण की सकारात्मकता 1 प्रतिशत से कम हो। नाइट कर्फ्यू को भी सोमवार से हटा लिया जाएगा। इसके साथ सोमवार से बाजार सामान्य रूप से खुल सकेंगे। इतना ही नहीं सिनेमा हाल, रेस्तरां और बार भी पूर्व की तरह 100 प्रतिशत क्षमता के साथ खुलेंगे। एक-दो दिन में इस बाबत दिल्ली सरकार की ओर से आदेश जारी हो सकता है। इसका इशारा शुक्रवार को दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक में शामिल होने के बाद सीएम अरविंद केजरीवाल ने किया। उपराज्यपाल अनिल बैजल की अध्यक्षता में हुई डीडीएमए की बैठक में अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अब कोरोना नियंत्रण में है। अब दिल्ली में सब कुछ खुलना चाहिए।

अगले सप्ताह से हटेंगे कई प्रतिबंध, एक-दो में हो सकता है ऐलान

डीडीएमए की बैठक में शामिल अरविंद केजरीवाल ने इशारा किया है कि अगले सप्ताह से दिल्ली में कई तरह के प्रतिबंध हट सकते हैं और इसका ऐलान भी जल्द होगा। इसके तहत स्कूल पूर्व की तरह हाई ब्रिड मोड पर चलेंगे। इसके साथ कक्षाओं को अप्रैल से सामान्य रूप से संचालित करने पर फैसला हो सकता है। कुलमिलाकर अप्रैल से सामान्य रूप से स्कूल खोले जा सकते हैं।

नाइट कर्फ्यू हटाने के अलावा दिल्ली के लोगों के लिए और भी कई प्रतिबंधों में ढील दी गई है। इसमें मास्क ना पहनने पर जुर्माने की राशि भी घटा दी गई। कोरोनो प्रोटोकाल तोड़ने पर जो राशि 2000 थी, वह अब 500 रुपये हो जाएगी।

लोगों की रोजी रोटी का ख्याल रखना होगा

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमें यह भी देखना होगा लोग कोरोना की चपेट में आकर बीमार नहीं हो। इसके साथ ही यह भी सुनिश्तित करना होगा कि लोगों की रोजी रोटी भी प्रभावित नहीं हो।

भीड़ पर पाना होगा नियंत्रण

कोरोना पर नियंत्रण के साथ भीड़ पर नियंत्रण जरूरी है, इसलिए लोगों को संयम रखना होगा। भारी भीड़ से लगातार बचना होगा।  इस दौरान मास्क लगाने और शारीरिक दूरी के नियमों को मानना होगा।

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *