Fri. Jun 21st, 2024

तैयारियों का जायजा लेने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को बहराइच बलरामपुर और श्रावस्ती का करेंगे दौरा

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 11 दिसंबर को बलरामपुर से सरयू नहर परियोजना राष्ट्र को समर्पित करेंगे। इस दौरान वह राप्ती बैराज स्थित नहर का मुख्य गेट खोलकर सरयू नहर में पानी छोड़ेंगे। इसके लिए घाघरा नदी से जुड़े सरयू नदी के गोपिया बैराज पर कार्यक्रम की तैयारियां तेज कर दी गई हैं। इस कार्यक्रम से पूर्व तैयारियों का जायजा लेने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को बहराइच, बलरामपुर और श्रावस्ती का दौरा करेंगे।

सीएम योगी आदित्यनाथ गुरुवार को सरयू नहर परियोजना के लोकार्पण कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लेंगे। बहराइच में गोपिया बैराज पर चल रहे काम का निरीक्षण करेंगे। वह श्रावस्ती के जमुनहा ब्लाक क्षेत्र स्थित राप्ती बैराज पहुंचकर सरयू नहर का निरिक्षण करेंगे। बहराइच से सीएम सीधे हेलीकाप्टर से राप्ती बैराज पहुंचेंगे।

बहराइच व श्रावस्ती में बैराज पर लगेंगी एलईडी : पीएम के कार्यक्रम के सजीव प्रसारण के लिए बहराइच व श्रावस्ती में दो स्थानों पर एलईडी लगाई जा रही है। गोपिया बैराज के साथ श्रावस्ती जिले के जमुनहा तहसील क्षेत्र में राप्ती बैराज पर भी एलईडी लगाई जा रही है।

40 बसों से जाएंगे लाभार्थी : बलरामपुर में आयोजित कार्यक्रम में लाभार्थियों को ले जाने के लिए रोडवेज की 40 बसों को भी लगा दिया गया है। जिले से किसानों, लाभार्थियों, आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों, स्वयं सहायता समूह के सदस्यों को ले जाने के लिए भी बसों की व्यवस्था की गई है।

50 हजार भाजपा कार्यकर्ता जाएंगे : प्रधानमंत्री के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए करीब 50 हजार कार्यकर्ताओं को ले जाने का लक्ष्य रखा गया है। पदाधिकारियों को जिम्मेदारी भी सौंपी गई है। इसके लिए मंडल स्तर पर बैठक की जा रही है।

इन्हें है ले जाने का लक्ष्य

  • कृषि विभाग : पां हजार किसान
  • बाल विकास :  दो हजार आंगनबाड़ी कार्यकर्ता
  • शहरी आवास : ढाई हजार लाभार्थी
  • ग्रामीण आवास : दस हजार लाभार्थी
  • एनआरएलएम : तीन हजार सदस्य

दो दिवसीय दौरे पर आज जाएंगे गोरखपुर : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को दो दिवसीय दौरे पर गोरखपुर जाएंगे। शुक्रवार को वह महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद के संस्थापक सप्ताह समारोह के समापन कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगे। इस दौरान उनके साथ मुख्य अतिथि के तौर पर केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी मौजूद रहेंगे। महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद के पदाधिकारियों के साथ परिषद के समापन समारोह की तैयारियों की मंदिर में समीक्षा बैठक भी करेंगे।

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *