Wed. Jun 19th, 2024

श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति बोर्ड बैठक संपन्न

देहरादून। श्री बदरीनाथ- केदारनाथ मंदिर समिति बोर्ड बैठक श्री बदरीनाथ- केदारनाथ मंदिर समिति( बीकेटीसी) अध्यक्ष अजेंद्र अजय की अध्यक्षता में केनाल रोड देहरादून कार्यालय सभागार में भगवान बदरीविशाल की आरती पवनमंद सुगंध शीतल हेममंदिर शोभितम्” की सांकेतिक स्तुतिगान से शुरू हुई।

बैठक में यात्रा वर्ष 2024 हेतु तैयारियों, निर्माण- जीर्णोद्धार कार्यों संबंधित प्रस्ताव सहित, मंदिर समिति कार्यालयों को ई आफिस के रूप में परिवर्तित किये जाने का निर्णय लिया गया। आगामी यात्रा व्यवस्थाओं की तैयारियों ,मंदिर समिति कार्यालयों को ई – आफिस के रूप में विकसित करने सहित मंदिर तथा विश्रामगृह जीर्णोद्धार- र्निर्माणकार्यों, श्री त्रियुगीनारायण मंदिर, श्री ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ में वेडिंग डेस्टिनेशन बनाने यात्री सुविधाओं-कर्मचारी हितों के प्रस्ताव पारित।

यात्रा वर्ष 2024 हेतु पर्याप्त यात्री सुविधायें उपलब्ध कराने, मंदिर जीर्णोद्धार, विश्राम गृहों परिसर- विस्तारीकरण निर्माण कार्यों यात्रा पूर्व अनुरक्षण कार्य किये जाने सहित, अस्थायी कर्मचारियों के विनियमतीकरण हेतु शासन को प्रस्ताव भेजे जाने एवं कर्मचारी हित के कई प्रस्ताव पारित किये गये।

बीकेटीसी अध्यक्ष अजेंद्र अजय ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि मंदिर समिति तीर्थयात्रियों की सुविधा हेतु प्रतिबद्ध है यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रेरणा तथा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के कुशल मार्गदर्शन में आगामी श्री बदरीनाथ तथा श्री केदारनाथ यात्रा में तीर्थयात्रियों की सुविधाओं में सुधार तथा ढ़ाचागत विकास हेतु कार्य किया जा रहा है, साथ ही श्री त्रियुगीनारायण मंदिर क्षेत्र को वेडिंग डिस्टनेशन के रूप में विकसित किया जायेगा इसके लिए मूलभूत सुविधाएं जुटायी जायेगी इस संबंध में भी बोर्ड बैठक में प्रस्ताव पारित हुआ है। श्री ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ कोठा भवन में प्रथम फेज का निर्माण कार्य शुरू हो चुका है। द्वितीय चरण के कार्य भी शीघ्र शुरू होंगे।

श्री बदरीनाथ धाम में मास्टरप्लान कार्यों से मंदिर समिति के विश्रामगृह, भवन सरंचनाएं ध्वस्त हुई हैं उनके एवज में नवनिर्माण, विश्राम गृह, पुजारी निवास, कर्मचारी निवास नव निर्माण किया जाना प्रस्तावित है। कहा कि गोरामाई मंदिर गौरीकुंड परिसर विस्तार, जोशीमठ में श्री वासुदेव मंदिर, दुर्गामंदिर परिसर सौंदर्यीकरण,आधुनिक सूचना तकनीकि का इस्तेमाल कर तीर्थयात्रियों को अधिक से अधिक यात्रा सुविधाएं मुहैया कराये जाने पर विस्तृत विचार विमर्श हुआ।

 

मंदिर समिति कार्यालयों को ई- आफिस के रूप में उच्चीकृत किया जायेगा, कर्मचारी सेवा नियमावली के बावत बीकेटीसी अध्यक्ष ने कहा कि यह कर्मचारियों के हित में है पदोन्नति,विनियमितीकरण, वरिष्ठता,नियुक्ति ने सुविधा होगी। अस्थायी कर्मचारियों के दीर्घकालीन समय से चली आ रही लिए पद सृजन, विनियमितीकरण, वेतन वृद्धि की मांग पर हर संभव कार्य हो रहा है।इस संबंध में आज प्रस्ताव पारित कर शासन को संदर्भित कर दिया गया है।

मंदिर समिति के विश्राम गृहों मंदिरों में जहां निर्माण एवं विस्तारीकरण की आवश्यकता है यात्रा पूर्व सभी कार्य यथा समय पूरे किये जायेंगे इसी क्रम में डालमिया यात्री विश्राम गृह श्रीनगर ( गढवाल) का पुनर्निर्माण का प्रस्ताव पारित किया गया इसके अंतर्गत बहुमंजिला विश्राम गृह, पार्किंग, डीलक्स रूम बनने प्रस्तावित है।

 

बैठक की शुरूआत में मुख्य कार्याधिकारी योगेंद्र सिंह ने नये वर्ष की शुभकामनाएं दी तथा विगत बोर्ड बैठक 12 जुलाई 2023 के प्रस्तावों कीअनुपालन आख्या प्रस्तुत की उसके पश्चात बैठक बैठक का संचालन करते हुए ऐजेंडे पर बिंदुवार चर्चा एवं विचार विमर्श हुआ।
सर्वप्रथम मंदिर समिति में विभिन्न संवर्गों के सृजन,अस्थायी कर्मचारियों के विनियमितिकरण,मास्टर प्लान के तहत श्री बदरीनाथ धाम में ध्वस्त भवनों संरचनाओं के स्थान पर पुनर्निमाण,विनसर मंदिर चौथान पट्टी पौड़ी को बीकेटीसी के अधीनस्थ मंदिरों के अंतर्गत किये जाने पर विचार, रघुनाथ कीर्ति संस्कृत महाविद्यालय संचालन, दानीदाता द्वारा तांबे की चद्दर पर सोने की परत लगी श्रीमद् भगवदगीता को बदरीनाथ मंदिर सभागृह परिसर में स्थापित करने, श्री ओंकारेश्वर मंदिर, श्री गौरामाई मंदिर के विस्तारीकरण,पुराने फार्मेसी भवन के स्थान पर नया प्रशासनिक भवन बनाये जाने, उखीमठ जयबीरी तोक भूमि को लीज पर दिये जाने,केदारनाथ धाम के प्रवचन हाल में कर्मचारी आवास व्यवस्था बनाये जाने के भी प्रस्ताव पारित हुए ।


बैठक के अंत में बीकेटीसी मुख्यकार्याधिकारी ने सभी सदस्यों को धन्यवाद किया ओर भगवान केदारनाथ की सूक्ष्म स्तुति के बाद बैठक समाप्ति की घोषणा की गयी। इससे पहले सच्चिदानंद संस्कृत महाविद्यालय स्थित अनंत अंबानी पुस्तकालय प्रभारी कृष्णानंद पंत परिवार द्वारा लिखी पुस्तकों, संग्रहित पा़ंडुलिपियों, डाक टिकटों पर आधारित लघु फिल्म प्रस्तुति हुई जिसकी सराहना की गयी।

 

बैठक में मंदिर समिति उपाध्यक्ष किशोर पंवार,मंदिर समिति सदस्य श्रीनिवास पोस्ती, वीरेंद्र असवाल, महेंद्र शर्मा, भास्कर डिमरी,पुष्कर जोशी, रणजीत सिंह राणा,राजपाल जड़धारी,जयप्रकाश उनियाल, आशुतोष डिमरी,कृपाराम सेमवाल सहित मुख्य कार्याधिकारी योगेंद्र सिंह,वित्त अधिकारी भारत चंद्र, अधिशासी अभियंता अनिल ध्यानी,कार्याधिकारी आरसी तिवारी,मुख्य प्रशासनिक अधिकारी गिरीश चौहान मुख्य प्रशासनिक अधिकारी राजकुमार नौटियाल एई विपिन तिवारी, एई गिरीश देवली, विधि अधिकारी शिशुपाल बर्त्वाल, निजी सचिव प्रमोद नौटियाल, मीडिया प्रभारी डा.हरीश गौड़, अतुल डिमरी, दीपेंद्र रावत, अमित देवराड़ी आदि मौजूद रहे।

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *