Sun. Jun 16th, 2024

देश में ओमिक्रोन के मामले बढ़ने के साथ ही दिल्ली समेत कई राज्यों ने स्कूलों को बंद करने की घोषणा की

देश में ओमिक्रोन के मामले बढ़ने के साथ ही दिल्ली समेत कई राज्यों ने स्कूलों को बंद करने की घोषणा कर दी है। दिल्ली सरकार ने शहर में कोरोना के डेल्‍टा और ओमिक्रोन वैरिएंट के बढ़ते खतरे को देखते हुए ‘येलो अलर्ट’ जारी कर दिया है जिसके बाद से सभी स्‍कूल-कॉलेज बंद कर दिए गए हैं। उत्‍तर प्रदेश में भी 8वीं कक्षा तक के स्‍कूलों में विंटर वेकेशन का ऐलान कर दिया गया है। स्‍कूल 31 दिसंबर से बंद होंगे और 14 जनवरी तक विंटर वेकेशन जारी रहेगा। बता दें कि महाराष्‍ट्र में भी जल्‍द कोई फैसला लिया जा सकता है। महाराष्‍ट्र की शिक्षामंत्री वर्षा गायकवाड़ यह जानकारी दे चुकी हैं कि कोरोना के मामले बढ़ने पर स्‍कूल बंद किए जा सकते हैं। अभी तक स्‍कूलों को बंद करने की आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है मगर अनुमान लगाया जा रहा है कि जल्‍द इसपर अपडेट आ सकता है

दिल्ली में सभी शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे

राजधानी दिल्ली में येलो अलर्ट घोषित होते ही सभी स्कूल अगले आदेश तक बंद रहेंगे। कोरोना के चलते लंबे समय से बंद स्कूल कुछ दिनों पहले खुले थे लेकिन प्रदूषण के चलते दोबारा बंद करना पड़ा। अब येलो अलर्ट की घोषणा के बाद दिल्ली में स्कूल, कॉलेज और कोचिंग सेंटर समेत सभी शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे। कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए दिल्ली सरकार की ओर से मंगलवार यह फैसला लिया गया। जिस प्रकार से मामले बढ़ रहे हैं उससे ऐसा लग रहा है कि आने वाले दिनों में भी स्कूलों के खुलने की संभावना कम ही है। दिल्ली शिक्षा निदेशालय की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि अगले आदेश तक सभी स्कूल बंद रहेंगे। सरकारी, गैर सरकारी, एमसीडी, दिल्ली छावनी बोर्ड के स्कूल अगले आदेश तक बंद रहेंगे।

यूपी में स्कूलों को लेकर नई गाइडलाइन जारी

दिल्ली-एनसीआर में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के बढ़ते मामलों के बीच नोएडा, ग्रेटर नोएडा, हापुड़ और गाजियाबाद में 8वीं तक के स्कूल 15 दिन के लिए बंद किए जाने की घोषणा की गई है। इस ऐलान के बाद 31 दिसंबर से अगले साल 14 जनवरी तक 8वीं तक के परिषदीय स्कूल बंद रहेंगे। मिली जानकारी के मुताबिक, बढ़ती शीतलहर और कड़ाके की ठंड के चलते उत्तर प्रदेश सरकार ने यह फैसला लिया है। वहीं, उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद ने इस बाबत विस्तार से एक गाइडलाइन भी जारी की है। इसके तहत स्कूलों को विकल्प के तौर पर ऑनलाइन पढ़ाई की व्यवस्था करानी होगी। अगर स्कूल में किसी को भी जुकाम, बुखार के लक्षण दिखते हैं तो उसे तुरंत घर पहुंचाने की व्यवस्था स्कूल को करनी होगी।

पश्चिम बंगाल में भी बंद हो सकते हैं स्कूल

अत्यधिक संक्रामक ओमिक्रोन वैरिएंट के कारण कोविड के मामले बढ़ने पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को अधिकारियों से राज्य में महामारी की स्थिति की समीक्षा करने को कहा। उन्होंने यह भी कहा कि यदि आवश्यक हुआ तो स्कूल और कॉलेज कुछ समय के लिए बंद किए जा सकते हैं। मुख्यमंत्री ने दक्षिण 24 परगना के गंगा सागर में एक प्रशासनिक समीक्षा बैठक की, जहां उन्होंने कहा कि कोलकाता आने वाली अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर निर्णय लेने की आवश्यकता है।

स्‍कूलों में लागू रहेंगे कोरोना दिशानिर्देश

जिन राज्‍यों में स्‍कूल खोले जा रहे हैं वहां जरूरी कोरोना सावधानियों का पालन अनिवार्य होगा। कक्षा में मास्‍क और शारीरिक दूरी का पालन जरूरी होगा। सभी कक्षाओं को सेनिटाइज किया जाएगा। कोई भी एसेंबली या स्‍पोर्स्‍ट्स का आयोजन नहीं होगा। जहां अन्‍य राज्‍यों में वायरस के डर से स्‍कूल बंद हो रहे हैं, वहीं ओडिशा में जूनियर क्‍लासेज़ के लिए स्‍कूल 03 जनवरी से खुलने जा रहे हैं. स्‍कूल कक्षा 1 से 5 तक के बच्‍चों के लिए खुलेंगे।

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *